सुप्रीम कोर्ट ने BCCI के संचालक के सुझाव की जिम्मेदारी अनिल को सौंपी

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई प्रशासकों का नाम सुझाने के लिए एफएस नरीमन की जगह वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल दीवान को रखा है। नरीमन ने कहा कि वह वकील के रूप में बीसीसीआई का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं और इसलिए इस प्रक्रिया का हिस्सा नहीं बनना चाहते हैं। इससे पहले सर्वोच्च न्यायालय ने (बीसीसीआई) के नए संचालक के नाम का सुझाव देने का कार्यभार वरिष्ठ अधिवक्ता और जाने-माने वकील फली नरीमन को सौंपा था।

अनिल दीवान को नियुक्त करने का आग्रह नरीमन ने किया

प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति टी.एस.ठाकुर, न्यायमूर्ति ए.खानविलकर और न्यायमूर्ति डी.वाई चंद्रचूड़ की खंडपीठ ने फैसला सुनाया। बीसीसीआई के संचालक के नामों के सुझाव कार्य के लिए नरीमन ने पीठ से स्वयं के स्थान पर अनिल को नियुक्त करने का आग्रह किया था, जिसे सर्वोच्च न्यायालय ने स्वीकार कर लिया।

सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को अपने फैसले में एमिकस क्यूरी गोपाल सुब्रमण्यम और जाने-माने वकील नरीमन को उन लोगों के नाम सुझाने के लिए कहा है, जो एक प्रशासक के नेतृत्व में काम करने वाली समिति में शामिल हों। यह समिति बीसीसीआई के संचालन का कामकाज देखेगी। इसके साथ ही शीर्ष अदालत ने संचालक के नामों के सुझाव के लिए दो सप्ताह का समय दिया है।