दाऊद इब्राहिम को प्रधानमंत्री मोदी का बड़ा झटका, भारत के लिए बड़ी सफलता

नयी दिल्ली: अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के खिलाफ भारत को बड़ी कामयाबी प्राप्त हुई है. भारत के साथ मोदी सरकार के लिए भी ये बड़ी सफलता है.

यूएई ने भारत के डॉजियर पर कार्रवाई करते हुए दाऊद की दुबई में करीब 15 हजार करोड़ रूपये से ज़्यादा की प्रॉपर्टी को अपने कब्जे में ले ली है.

इसमें एक होटल और कई रियल स्टेट से जुडी प्रॉपर्टी भी शामिल है. यूएई की ओर की गई कार्रवाई को दाऊद के खिलाफ अबतक की बड़ी कामयाबी को तौर पर देखा जा रहा है.

चुनाव आयोग ने करी 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव की घोषणा, आचार सहिंता हुई लागू

अजीत डोवल ने दिया था दाऊद इब्राहिम पर डोसियर

आपको बता दें कि भारत सरकार ने अजीत डोभाल के जरिए यूएई सरकार को दाऊद इब्राहिम से जुड़ा डोजियार सौंपा था। गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी जब यूएई दौरे पर गए थे तो उनके साथ एनएसए अजीत डोभाल भी थे। दोनों देशों ने एनएसए स्तर पर जानकारियां साझा की थीं। इसके साथ ही भारत सरकार ने दाऊद इब्राहिम के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए यूएई सरकार से अपील की थी।

पहली बार मुस्लिमों ने की मोदी से मांग, कहा – इस चेहरे को बनाएं यूपी में बीजेपी का सीएम कैंडिडेट

मोदी सरकार ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. कल ही गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि जल्द ही दाऊद हमारे गिरफ्त में होगा. राजनाथ ने ये भी दावा किया था कि सरकार के पास पक्के सबूत हैं कि दाउद पाकिस्तान में है।

1983 में हुए मुम्बई बम धमाकों में का मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम पर भारत में कई मुकदमे चल रहे हैं. अंडरवर्ल्ड डॉन के पाकिस्तान में छुपे होने की खबरें लगातार आती रही है.

कौन रहा इस सफलता के पीछे?

ख़बरों की माने तो सीबीआई, रॉ, ईडी, आयकर विभाग, एफआईयू और इंटरपोल विंग के 50 से अधिक अधिकारी शामिल हैं। ये ही टीम आजकल दाऊद की कर हरक़त पर नज़र रखती है।

बेंगलुरू में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ का वीडियो सबूत आया सामने, मामला दर्ज