पति की हत्या में पत्नी व प्रेमी को आजीवन कारावास

बांदा: उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की जिला एवं सत्र न्यायालय ने मंगलवार को पति की हत्या का आरोप सिद्ध हो जाने पर पत्नी और उसके प्रेमी को आजीवन कारावास व दस-दस हजार रुपये के अर्थदंड़ की सजा सुनाई है। यह जानकारी बुधवार को शासकीय अधिवक्ता ने दी।

प्रेम प्रसंग में की गई थी हत्या

जिला शासकीय अधिवक्ता मनोज कुमार यादव ने बताया कि ‘बिसंड़ा कस्बे में 23 जनवरी 2015 को रामखेलावन की हत्या कर दी गई थी, मृतक के भाई दउवा ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया था, लेकिन पुलिस ने हत्या का खुलासा करते हुए मृतक की पत्नी विमला और उसके प्रेमी भीम कुशवाहा को गिरफ्तार कर जेल भेजा।’

उन्होंने बताया कि ‘विवेचना अधिकारी एसआई सुरेन्द्र मिश्र ने अदालत में अवैध संबंधों के चलते प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या किए जाने का आरोप पत्र पत्नी और उसके प्रेमी के खिलाफ दाखिल किया था, अदालत ने पत्रावली में उपलब्ध साक्ष्य और पेश छह गवाहों के बयानों का अवलोकन करते हुए दोनों पक्षों को सुनने के बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश भूपेन्द्र सहाय की अदालत ने मंगलवार को पति की हत्या का दोषी पाते हुए पत्नी विमला और उसके प्रेमी भीम कुशवाहा को आजीवन कारावास की कैद के अलावा दोनों को दस-दस हजार रुपये के अर्थदंड़ की सजा सुनाई है।’