सस्ता आवास ऋण देने में बैंक ऑफ बड़ौदा आगे निकला

नई दिल्ली। नोट बंदी के बाद से बैंकों के बीच कर्ज सस्ता करने की होड़ मची हुई है। फिलहाल इस दौड़ में बैंक ऑफ बड़ौदा ने बाजी मार ली है। अभी तक सबसे सस्ता आवास कर्ज यही बैंक दे रहा है।
भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने महिलाओं के लिए होम लोन का रेट घटा कर 8.6 फीसदी और अन्य लोगों के लिए 8.65 फीसदी कर दिया है। वहीं बैंक ऑफ बड़ौदा लोगों को सबसे सस्ते होम लोन की पेशकश कर रहा है। यह बैंक उन लोगों को आकर्षित करना चाहता है जो ज्यादा ब्याज दे रहे हैं और जिनके बैंक ब्याज दरों में कटौती नहीं कर रहे। बैंक ऑफ बड़ौदा के होम लोन की दर बैंकिंग उद्योग में सबसे कम 8.35 फीसदी है। यही नहीं बैंक कार लोन भी सिर्फ 8.85 फीसदी ब्याज पर दे रहा है।
स्विचिंग फीस भी माफ
अगर बैंक ऑफ बड़ौदा का कोई ग्राहक अपने लोन को बेस रेट से एमसीएलआर में बदलवाना चाहता है तो बैंक ने स्विचिंग फीस भी अभी माफ कर दी है। वर्तमान में बेस रेट से एमसीएलआर में कन्वर्ट करवाने के लिए कर्ज लेने वाले व्यक्ति को 5,000 रुपए से 10,000 रुपए का शुल्क देना होता है। सबसे बड़ी बात यह है कि किसी दूसरे बैंक या हाउसिंग फाइनेंस कंपनी से कर्ज लेने वाले ग्राहक अगर बैंक ऑफ बड़ौदा के पास अपना होम लोन ट्रांसफर करना चाहते हैं बैंक उनसे कोई शुल्क नहीं लेगा।
नई दरें लागू
बैंक ऑफ बड़ौदा के अनुसार सभी अवधि के एमसीएलआर दरों में 0.55 से 0.75 फीसदी की कटौती के बाद होम लोन की ब्याज दरों में 0.70 फीसदी की कटौती की गई है। नई दरें 7 जनवरी 2017 से प्रभावी हो गई हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा ने हाल ही में एमसीएलआर  दर 9.05 फीसदी से घटा कर 8.35 फीसदी कर दिया है।
कितनी होगी इससे बचत
अगर आपने 50 लाख रुपए का होम लोन लिया हुआ है तो ब्याज दरों में 0.70 फीसदी की कटौती के बाद आपकी ईएमआई 2,496 रुपए कम हो जाएगी अगर लोन की अवधि 30 साल है। इस प्रकार आप पूरी अवधि के दौरान लगभग 9 लाख रुपए की बचत कर पाएंगे।