चीन करता रह गया विरोध, भारतीय सेना ने लद्दाख में बिछा दी पाइपलाइन!

भारतीय सेना और चीन की सेना के बीच एक या दूसरे मुद्दे पर होड़ तो बनी ही रहती है. अब ये होड़ अरुणाचल प्रदेश पर चीन के नाजायज़ दावे की हो या लद्दाख में अक्साई चीन की ज़मीन पर.

रावलपिंडी में लगे बैनर, आर्मी चीफ राहील शरीफ से चुनाव लड़ने की अपील!

लद्दाख में आज ऐसी ही होड़ देखी गयी. दरअसल, लद्दाख के ग्रामीण इलाकों को सिंचाई के लिए पानी की कमी पड़ती है. ऐसे में भारतीय सेना ग्रामीणों की मदद के लिए सामने आई और चीन के लाख विरोध के बावजूद  पानी की पाइपलाइन बिछाने का काम पूरा कर लिया।

लेह में घुसे चीनी सैनिक, भारतीय सेना ने खदेड़ा, ग्लोबमास्टर जेट तैनात!

इस पाइपलाइन को लेकर इस हफ्ते की शुरुआत में चीन और भारत के सैनिकों के बीच आमना़ सामना की स्थिति बन गई थी।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि चीन ने इस बार डेमचोक में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास पीपुल्स आर्म्ड पुलिस फोर्स (पीएपीएफ) को तैनात किया था जबकि सामान्य तौर पर इसके लिए पीएलए यानि पीपल्स लिबरेशन आर्मी को वह तैनात करता है।

भारतीय सेना ने किया सरहद पर तोपों का इस्तेमाल, 13 साल में पहली बार हुआ ऐसा!

चीनी बल सीमा पर इस बार शुक्रवार को प्लास्टिक के शिविर डालने आए थे लेकिन सेना और भारत़़ तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवानों ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया।

सूत्रों ने कहा कि दोनों पक्षों के बीच तीन दिनों तक आमना़ सामना की स्थिति रही और कल शाम यह खत्म हुई।

वहीं सेना के इंजीनियरों ने पीएपीएफ की चेतावनी की अनदेखी करते हुए डेमचोक में ग्रामीणों के लिए सिंचाई उददेश्य से करीब एक किलोमीटर लंबी पाइपलाइन बिछाना जारी रखा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *