महाराष्ट्र: मुंबई में आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

मुंबई में आरटीआई कार्यकर्ता भूपेंद्र वीरा की गोली मारकर हत्या कर दी गई. भूपेंद्र वीरा भू-माफियाओं के खिलाफ काफी लंबे समय से लड़ाई लड़ रहे थे. पुलिस को शक है कि भूपेंद्र की हत्या के पीछे भू-माफियाओं का ही हाथ है. फिलहाल पुलिस ने इस मामले में दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया है.

मुंबई के सांताक्रूज में 72 वर्षीय आरटीआई कार्यकर्ता भूपेंद्र वीरा की गोली मारकर हत्या कर दी गई. पुलिस के मुताबिक, भूपेंद्र वीरा शनिवार रात अपने घर पर मौजूद थे. तभी उनके घर में घुसे अज्ञात बदमाश ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी.

गोली उनकी कनपटी पर रखकर चलाई गई थी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई. मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. आरोपी की तलाश के लिए बनाई गई पुलिस टीम ने दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है.

पुलिस इस बात की भी जांच करेगी कि भूपेंद्र वीरा ने खतरे की आशंका को देखते हुए पुलिस में कोई शिकायत दर्ज कराई थी या नहीं. वहीं वीरा के साथ काम कर चुकी सामाजिक कार्यकर्ता और आप की पूर्व नेता अंजलि दमानिया ने आरोप लगाया कि भू-माफियाओं के खिलाफ आवाज उठाने पर ही उन्हें निशाना बनाया गया है.

बता दें कि भूपेंद्र वीरा भू माफियाओं, कलीना के आसपास अवैध निर्माण और अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ पिछले काफी समय से लड़ाई लड़ रहे थे. फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है. साथ ही पुलिस संदिग्धों से पूछताछ कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *