मिर्जापुर में देखने को मिला रफ़्तार का तांडव, बेकाबू इस्कार्पियों ने 10 लोगों को रौंदा

मिर्जापुर: उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर-इलाहाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग 76 पर सोमवार की सुबह साढ़े सात बजे जिगना थाने से चंद कदमों की दूरी पर सड़क के किनारे गुमटी पर चाय पी रहे और मैजिक पर फूल लाद रहे दस लोगों को बेकाबू स्कॉर्पियो ने रौंद दिया। इस घटना में पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में पांच लोग घायल हो गए। घटना से आक्रोशित भीड़ ने चक्का जाम कर दिया। मृतक नजदीकी गांव के बताए जा रहे हैं।

चाय पी रहे लोगों के लिए काल बनी स्कॉर्पियो

प्राप्त जानकारी के अनुसार, जिगना थाना से सटे रेलवे ओवरब्रिज के पास मौजूद चाय की दुकान पर सबेरे कुछ लोग चाय पी रहे थे तो कुछ लोग मैजिक पर फूल लाद रहे थे। उसी समय मिर्जापुर की ओर से तेज रफ़्तार से इलाहाबाद की तरफ जा रही स्कर्पियो ने सड़क की पटरी पर बायीं ओर जाकर सभी को रौंद दिया। इस हादसे में सिकरा गांव निवासी धर्मराज, नकटा निवासी ज्ञानचंद, चड़ेरु चौकठा गांव निवासी उमाशंकर, नकटा गांव निवासी गौरव यादव व सिकरा कला गांव निवासी धर्मेंन्द्र की मौके पर ही मौत हो गयी।

पलक झपकने में हो गई दुर्घटना

जबकि धर्मेंद्र बिंद, रवींद्र यादव, काजू भारतीय, राहुल यादव बुरी तरह घायल हो गए। घायलों को अलग-अलग स्थानों पर उपचार के लिए भेजा गया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी चालक को गिरफ्तार कर लिया हैं। गाड़ी का चालक महेंद्र सिंह सोनभद्र के शक्तिनगर का निवासी है। पूछताछ में उसने बताया कि वह अपने दोस्त दिनेश तिवारी की पत्नी को उपचार के लिए लखनऊ ले जा रहा था। उनकी पत्नी को ब्रेन ट्यूमर हो गया है। पलक झपकने में दुर्घटना हो गई।मिर्जापुर में दर्दनाक हादसे में 5 की मौत