सत्यदेव कटारे का पार्थिव देह ग्वालियर पहुंचा, ग्राम में होगा अंतिम संस्कार

मध्य प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे का पार्थिव शरीर ग्वालियर पहुंच गया है. उनका अंतिम संस्कार शनिवार को गृह ग्राम मनेगांव में किया जाएगा.

कांग्रेस नेता सत्यदेव कटारे फेफड़ों में कैंसर की बीमारी से पीड़ित थे. उनका इलाज मुंबई के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था, जहां उन्होंने गुरुवार को आखिरी सांस ली.

प्रदेश के भिंड जिले की अटेर विधानसभा सीट से विधायक सत्यदेव कटारे बीमारी के इलाज के लिए न्यूयॉर्क भी गए थे. इसके बाद उनकी सेहत में कुछ सुधार आया था. पिछले कुछ समय से उनकी तबीयत बिगड़ने के बाद मुंबई के हीरानंदनी अस्पताल में उन्हें भर्ती किया गया था.

जीवन परिचय

-सत्‍यदेव कटारे का जन्‍म 15 फरवरी 1955 हुआ था.

-विधि में स्‍नातकोत्‍तर कटारे भिंड जिले के मनेपुरा (अटेर) से संबंध रखते थे.

-अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत कटारे ने युवा कांग्रेस के साथ की थी.

– 1985 से 1990 तक वे मध्‍यप्रदेश युवा कांग्रेस के सचिव रहे.

-मोतीलाल वोरा के कार्यकाल में 1989 से 1990 तक वे परिवहन और जेल के सहायक मंत्री रहे थे.

-दिग्विजय सिंह शासनकाल में 1993 से 1995 तक वे मध्‍यप्रदेश के गृह राज्‍यमंत्री रहे.

-1995 से 1998 के दौरान वे मध्‍यप्रदेश के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री रहे.

-2003 से 2008 तक वे भिंड के अटेर क्षेत्र के विधायक रहे. 2008 विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद वह पिछले विधानसभा चुनाव में फिर अटेर से विधायक चुने गए थे.

 

-सौजन्य से प्रदेश18