ढाका हमले के मास्टरमाइंड नुरूल इस्लाम की पुलिस मुठभेड़ में मौत

ढाका| बांग्लादेश की राजधानी ढाका में गुलशान कैफे हमले का मास्टरमाइंड नुरूल इस्लाम मरजान पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया। मरजान आतंकवादी संगठन नियो-जेएमबी का सदस्थ था।

ढाका हमले में एक भारतीय समेत 22 लोगों की मौत हुई थी

बीडीन्यूज24 ने ढाका के मेट्रोपॉलिटन पुलिस की आतंकवाद रोधी इकाई के प्रमुख मोनीरूल इस्लाम के हवाले से बताया कि मुठभेड़ तड़के लगभग तीन बजे ढाका के मोहम्मदपुर में हुई। पुलिस ने बताया कि मरजान के साथ उसका एक साथी भी मारा गया।

ढाका में 1 जुलाई, 2016 की रात डिप्लोमेटिक एरिया में एक कैफे पर 6 आतंकियों ने फायरिंग की थी। इसमें एक भारतीय लड़की तारिषी जैन समेत 17 विदेशियों समेत 22 लोग मारे गए थे। बाद में सिक्युरिटी फोर्सेस ने कार्रवाई में 9 आतंकियों मार गिराया था। इस हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस ने ली थी, लेकिन बांग्लादेश की सरकार ने हमले के पीछे आतंकी संगठन जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्‍लादेश (जेएमबी) को जिम्मेदार बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *