अगर आपका बॉयफ्रेंड भी दूसरी लड़कियों से करता है फ्लर्ट, इस तरह करें हैंडल


लड़कों का फ्लर्टिंग (Flirting) करना एक आम बात है लेकिन जब वो रिलेशनशिप (Relationship) में रहने के बावजूद ऐसी हरकतें करते हैं तो जाहिर तौर पर ये पार्टनर (Partner) को परेशान कर सकता है. बॉयफ्रेंड (Boyfriend) का फ्लर्टी होना आपके रिश्ते को कमजोर बनाता है. इससे आपके रिलेशनशिप में इनसिक्योरिटी (Insecurity) बढ़ सकती है. ऐसे रिलेशनशिप लंबे समय तक नहीं चल पाते हैं. अगर आप भी खुद को ऐसी ही परिस्थिति में पा रहे हैं जहां आपका बॉयफ्रेंड दूसरी लड़कियों से फ्लर्ट करता या एक्स्ट्रा फ्रेंडली (Extra Friendly) नजर आता है. ऐसे में आपको नारज और दुखी होने के बजाय समझदारी से काम लेना चाहिए. जानें ऐसी सिचुएशन (Situation) में आपको क्या करना चाहिए.

जल्दबाजी ना करें- जल्दबाजी में कोई फैसला लेने से बचें वरना आपका रिश्ता खराब हो सकता है. फ्लर्ट करने का मतलब हमेशा धोखा देना नहीं होता है. आपको उन्हें समय देकर फ्लर्टिंग करने के पीछे के कारणों को समझना होगा. अगर उनके फ्लर्ट करने की आदत आपको बहुत परेशान कर रही है तो इस बारे में खुलकर जाहिर करें.

बातचीत से सुलझाएं- सही बातचीत आपके रिश्ते को बचाए रखने के लिए जरूरी है. पब्लिक में बहस या लड़ाई करने के बजाए पर्सनल में अपने पार्टनर के फ्लर्टी व्यवहार के बारे में बात करें. बातचीत के दौरान बॉयफ्रेंड पर कोई आरोप नहीं लगाएं बल्कि आराम से उनके इस व्यवहार के पीछे का कारण पूछें.

भरोसा ना खोएं- अगर आपका बॉयफ्रेंड अपनी फ्लर्टिंग की आदतों को सुधारने के कोशिश कर रहा है तो उन पर भरोसा रखें. फ्लर्टिंग करने की आदत एक दिन में बंद नहीं हो सकती. उनको अपने व्यवहार में बदलाव लाने के लिए जितना समय चाहिए उतना समय उन्हें दें. इस दौरान आपको उनपर भरोसा रखना चाहिए.

सावधान रहें- भरोसा रखने का मतलब ये नहीं है कि आप अपनी आंख-कान बंद कर लें. ये आपको परेशानी में डाल सकता है. आपको भरोसा रखने के साथ-साथ सचेत भी रहना होगा. ना ही बहुत अधिक श करें ना ही बहुत अधिक विश्वास. पब्लिक में अपने बॉयफ्रेंड के व्यवहार पर नजर रखें और उनके प्रति सचेत रहें. सही समय आने पर ही उनसे इस बारे में बातचीत करें.