दिल्ली सरकार ने आइसोलेशन कोरोना मरीजों को ये सुविधा मुफ्त में देने का किया ऐलान


नई दिल्ली: घर पर पृथकवास (आइसोलेशन) में रहने वाले कोविड-19 मरीजों को मुफ्त योग कक्षाओं की सुविधा देने का एलान दिल्ली में किया गया है.  राजधानी दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को कहा कि दिल्ली सरकार कोविड-19 रोगियों को उनकी प्रतिरक्षा बढ़ाने के लिए मुफ्त और व्यक्तिगत ऑनलाइन योग कक्षाएं प्रदान करेगी. दिल्ली सरकार द्वारा प्रशिक्षित शिक्षकों के मार्गदर्शन में दिल्ली के निवासियों को नियमित रूप से योग करने में मदद करने के लिए ‘दिल्ली की योगशाला’ कार्यक्रम शुरू करने के कुछ सप्ताह बाद यह कदम आया है.

इस तरह योग कक्षा के लिए करा सकेंगे पंजीकरण

सिसोदिया ने कहा कि कोविड​​​​-19 का कोई मामला सामने आने के बाद, मरीज को दिल्ली सरकार से एक एसएमएस प्राप्त होगा, जिसमें योग कक्षा के लिए पंजीकरण के लिए एक लिंक होगा. उन्होंने कहा कि प्रत्येक कक्षा में लगभग 25-35 व्यक्ति होंगे जिन्हें प्रशिक्षित योग प्रशिक्षकों द्वारा योग की शिक्षा दी जाएगी.  उन्होंने ‘दिल्ली की योगशाला’ के योग प्रशिक्षकों के साथ एक संवाद के दौरान कहा, ‘दिल्ली में कोविड रोगियों की संख्या बढ़ रही है, लेकिन उनमें से अधिकतर में लक्षण नहीं हैं और उन्हें घर पर पृथक (आइसोलेट) रहने की सलाह दी जा रही है. चिकित्सा उपचार के साथ, हम ऑनलाइन योग सत्रों के माध्यम से उनकी प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करेंगे.’

जल्द जारी किए जाएंगे ऑनलाइन क्लास के स्लॉट

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, उपमुख्यमंत्री ने कहा कि ऑनलाइन कक्षाओं के लिए स्लॉट जल्द ही जारी किए जाएंगे और अधिकारियों को कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया. लोग अपना स्लॉट चुन सकते हैं और वे अपनी सुविधा के अनुसार कक्षाओं में हिस्सा ले सकते हैं. ‘दिल्ली की योगशाला’ की प्रायोगिक परियोजना के तहत, योग शिक्षक पहले से ही राष्ट्रीय राजधानी में 65 स्थानों पर कक्षाएं संचालित कर रहे हैं. सिसोदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार की दृष्टि योग को हर दिल्लीवासी के दैनिक जीवन का हिस्सा बनाना है.

,