बढ़ी खबर: महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आठवीं कक्षा तक के स्कूलों को किया बंद


महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच पहली से आठवीं कक्षा तक के स्कूलों को बंद करने का फैसला किया है. पिछले कुछ दिनों में राज्य में तेज़ी से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़े हैं. इसके अलावा राज्य में ओमिक्रोन वेरिएंट के केसों में भी तेजी देखी जा रही है. बच्चों के स्वास्थ्य को मद्देनज़र रखते हुए उद्धव ठाकरे सरकार ने 31 जनवरी तक के लिए स्कूलों को बंद कर दिया है. हालांकि इस दौरान बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी.

मुंबई में भी स्कूल बंद

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच मुंबई में भी पहली से लेकर 9वीं कक्षा तक के स्कूल बंद करने का फैसला लिया गया है. इस दौरान सिर्फ दसवीं और 12वीं क्लास में ही पढ़ाई जारी रहेगी. 11वीं कक्षा की पढ़ाई भी बंद रहेगी, सिर्फ ऑनलाइन क्लास चलाने के आदेश दिए गए हैं.

महाराष्ट्र में बढ़ रहे कोरोना के मामले

महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 11 हज़ार 877 नए मामले सामने आए जो एक दिन पहले आए मामलों से 2 हज़ार 707 अधिक हैं और साथ ही ओमिक्रोन के 50 मामले सामने आए. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन में कहा कि महाराष्ट्र में नौ मरीजों की भी मौत हुई और इसके साथ ही मृतकों की संख्या 1 लाख 41 हज़ार 542 पर पहुंच गई है. महाराष्ट्र में अब 42 हज़ार 24 कोरोना के एक्टिव केस हैं. संक्रमण के 11 हज़ार 877 मामलों में से 7 हज़ार 792 मामले मुंबई से सामने आए.