पंजाब बीजेपी चीफ ने पीएम की सुरक्षा चूक मामले में राज्य सरकार की बनाई जांच कमेटी को लेकर कही यह बात


पंजाब के फिरोजपुर में पीएम मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के मुद्दे पर फिलहाल बीजेपी नरम पड़ने के मूड में नहीं दिख रही है। पंजाब बीजेपी चीफ अश्विनी शर्मा ने साफ कर दिया है कि राज्य सरकार की बनाई जांच कमेटी को वह खारिज कर दिया है। शर्मा ने यह भी कहा है कि यह कमेटी कभी कोई निष्कर्ष नहीं खोज पाएगी क्योंकि खुद सीएम ही इस षड्यंत्र के सरदार हैं।

बुधवार को फिरोजपुर में रैली के लिए जाते समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिले को फ्लाईओवर पर 15 से 20 मिनट तक रुकना पड़ा था, क्योंकि कुछ प्रदर्शनकारी किसानों ने रास्ता जाम किया हुआ था। इस मुद्दे पर केंद्र और पंजाब सरकार के बीच जुबानी जंग लगातार जारी है। 

अश्विनी शर्मा ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल से अनुरोध किया है कि वह पंजाब के डीजीपी और गृह मंत्री दोनों को निलंबित करें। शर्मा ने कहा कि पीएम को रिसीव करने के प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया। उन्होंने यह भी सवाल उठाया कि पीएम का रूट किसने लीक किया?

बता दें कि बुधवार को उठे सियासी तूफान के बाद गुरुवार को पंजाब सरकार बैकफुट पर दिखी। पहले जहां सीएम चन्नी ने खुद कहा था कि यह सुरक्षा में चूक का मामला नहीं है, वहीं गुरुवार को चन्नी सरकार ने इस मामले की जांच के लिए 2 सदस्यीय हाई लेवल कमेटी गठित की है। इस कमेटी को अगले 3 दिनों में जांच रिपोर्ट सौंपनी है। 

,