सीएम योगी ने नवचयनित नायब तहसीलदार और प्रवकता/सहायक अध्यापकों को सौपा नियुक्ति पत्र


लखनऊ, उत्तर प्रदेश में युवाओं को सरकारी नौकरी देने के क्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को नियुक्ति पत्र प्रदान किया।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की ओर से चयनित 57 नायब तहसीलदारों, माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधीन राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के 141 प्रवक्ताओं और 69 सहायक अध्यापकों को गुरुवार को लोक भवन सभागार में आयोजित कार्यक्रम में नियुक्ति पत्र सौंपे।  इस कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा तथा राज्य मंत्री गुलाबो देवी भी मौजूद थे।

इस मौके पर उन्होंने सरकारी नौकरियों में भर्तियों को लेकर पिछली सरकारों पर हमला बोला। उन्होंने दोहराया कि 2017 से पहले जब नियुक्तियां होती थी, तो चाचा, भतीजा, भांजे, महाभारत के सभी पात्र निकल पड़ते थे। गांव-गांव में उनके ठेके और वसूली के अड्डे चलते थे। वसूली वे करते थे और बलि का बकरा अधिकारी बनते थे। पहले की सरकारों की नीयत साफ नहीं थी। वे ईमानदार नहीं थी। जो अपने प्रति ईमानदार नहीं होगा, वह आपके प्रति और व्यवस्था के प्रति क्या ईमानदार होगा। इसी कारण उत्तर प्रदेश पिछड़ता चला गया। प्रदेश में आस्था से खिलवाड़ होने लगा। यहां पर पर्व और त्यौहार नहीं मनाया जाते थे। युवाओं के सामने पहचान का संकट था। हमने पारदर्शी और निष्पक्ष तरीके से 4.5 लाख भर्तियां की। सिर्फ उच्च, माध्यमिक और बेसिक शिक्षा में ही मिलाकर अब तक हमारी सरकार ने पौने दो लाख से ज्यादा शिक्षकों की भर्ती की है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नियुक्ति पत्रों देने के साथ ही इन सभी को ईमानदारी से काम करने का संकल्प भी दिलाया। इनमें माध्यमिक शिक्षा विभाग के प्रवक्ताओं व सहायक अध्यापकों भी थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज नायब तहसीलदारों में 57 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया जा रहा है। राजकीय महाविद्यालयों के 141 प्रवक्ता और 69 सहायक अध्यापकों को भी नियुक्ति पत्र प्रदान किया जा रहा है। यह आप सबके लिए गौरव का क्षण होना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक समय सीमा में प्रक्रिया पूरी कर के आपका उसमें चयन किया गया। चयन में किसी प्रकार की सिफारिश, लेनदेन व किसी प्रकार का भेदभाव नहीं किया गया है। प्रदेश में राजस्व विभाग के नवनियुक्त नायब तहसीलदारों और माध्यमिक शिक्षा विभाग के नवनियुक्त प्रवक्ता व सहायक अध्यापकों को हृदय से बधाई देता हूं। अब आप उत्तर प्रदेश सरकार का हिस्सा बनने जा रहे हैं, इसके लिए आप सबका अभिनंदन करता हूं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ में गुरुवार को स्वरोजगार लोन मेला के अंतर्गत 506995 लाभार्थियों को 4314 करोड़ का ऋण वितरित करेंगे। इसके बाद कोविड प्रबंधन के संबंध में समीक्षा बैठक करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ का आज वाराणसी का दौरा है। यहां पर मुख्यमंत्री 4500 छात्र-छात्राओं को स्मार्टफोन व टैबलेट प्रदान करने के साथ कोविड से बचाव की तैयारियों की समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री यहां के रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में जन प्रतिनिधियों के साथ जिला प्रशासन से भी कोविड की स्थिति की जानकारी भी प्राप्त करेंगे।