उत्‍तराखंड में मौसम ने फिर ली करवट, मौसम विभाग ने जारी किया यलो अलर्ट


देहरादून,उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम ने करवट ले ली है। केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री समेत ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी का दौर जारी है। वहीं, दो दिन धूप खिलने के बाद शुक्रवार शाम से ही आसमान में बादल मंडराने लगे थे। सुबह से देहरादून समेत आसपास के इलाकों में बारिश हो रही है। मौसम विभाग के मुताबिक आज और कल पहाड़ों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है। जबकि मैदानों में ओलावृष्टि और आकाशीय बिजली कड़कने को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है।

बीते मंगलवार और बुधवार को प्रदेशभर में हुई बारिश और बर्फबारी के बाद बीते दो दिनों से गुनगुनी धूप के कारण ठंड से राहत मिली। वहीं, धूप के कारण उत्तराखंड की पहाड़ि‍यों पर गिरी बर्फ पिघलने लगी है। हालांकि, पर्यटक स्थलों पर खासी रौनक बनी हुई है। शुक्रवार सुबह से धूप खिली रही, लेकिन शाम होते-होते बादल मंडराने लगे। सर्द हवाओं के साथ ठिठुरन होने लगी। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक ताजा पश्चिमी विक्षोभ उत्तराखंड में सक्रिय हो गया है। जिससे अगले दो दिन प्रदेश में मौसम का मिजाज बदला रहने की आशंका है। उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़ व बागेश्वर में बारिश और बर्फबारी के आसार हैं। जबकि, देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, नैनीताल, चंपावत और ऊधमसिंह नगर में गरज के साथ ओलावृष्टि हो सकती है।

प्रमुख शहरों का तापमान (डिग्री सेल्सियस में)

  • शहर———-अधिकतम———-न्यूनतम
  • देहरादून——–21.8—————–8.3
  • नैनीताल——-11.5——————3.4
  • हरिद्वार——-23.1—————-10.6
  • औली———-10.3——————2.5
  • पंतनगर——-22.4—————–12.2
  • मुक्तेश्वर—–11.0——————-2.8
  • टिहरी———13.4——————4.2
  • मसूरी———14.5——————3.8

रुड़की में सुबह धूप खिलने के बाद आसमान में छाए बादल, चली शीतलहर

शहर में शुक्रवार को मौसम का मिजाज बदला नजर आया। सुबह कुछ देर धूप खिलने के बाद बादलों की आवाजाही होने लगी। साथ ही शीतलहर भी चली। शहर और आसपास के क्षेत्रों में गुरुवार को धूप खिलने से नागरिकों को कड़ाके की ठंड से थोड़ी राहत मिल गई थी, लेकिन शुक्रवार को मौसम ने फिर करवट बदली। हालांकि सुबह मौसम साफ रहा और सवा आठ बजे के बाद ही धूप खिल गई। लेकिन, कुछ देर धूप खिलने के बाद मौसम का मिजाज बदलने लगा और आसमान में बादलों की आवाजाही शुरू हो गई।

इसके बाद दिनभर एकाएक धूप खिल जाती तो दूसरे ही पल बादल अपना डेरा डाल देते। वहीं हवा भी चली। इस कारण मौसम में ठंड का असर बढ़ गया। शुक्रवार को शहर का अधिकतम तापमान 20.5 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान 6.5 डिग्री सेल्सियस रहा। उधर, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की के जल संसाधन विकास एवं प्रबंधन विभाग में संचालित ग्रामीण कृषि मौसम सेवा परियोजना से मिली जानकारी के अनुसार नौ जनवरी तक मध्यम से घने बादल छाने और हल्की बारिश का पूर्वानुमान है।