विधानसभा चुनाव-2022: उत्तराखंड में 36 का आंकड़ा पार करने के लिए मिले इतने दिन


इस बार सियासी दलों को विधानसभा में बहुमत का जादूई 36 का आंकड़ा पार करने के लिए 37 दिन का समय मिला है। हालांकि इसमें भी मुख्य चुनाव घमासान सिर्फ 25 दिन का ही होगा। भारत निर्वाचन आयोग ने शनिवार आठ जनवरी की शाम को आचार संहिता की घोषणा की। प्रदेश में मतदान की तिथि 14 फरवरी तय की गई है। इस तरह आज रविवार नौ जनवरी से मतदान के दिन तक कुल 37 दिन ही शेष बचते हैं।  उल्लेखनीय यह है कि 70 सदस्यों वाली विधानसभा में बहुमत का आकड़ा छूने के लिए 36 का ही आंकड़ा ही जुटाना होता है।

इस बार आयोग ने युवा दिलों का पर्व वैलेटाइन डे को मतदान दिवस के रूप में चुना है, राज्य की पहली विधानसभा के लिए भी 2002 में इसी दिन मतदान हुआ था। जबकि 2017 में वैलेंटाइन डे के ठीक एक दिन बाद 15 जनवरी को मतदान हुआ था। इस बार चुनाव घोषणा से लेकर मतदान के बीच कुल 38 दिन का अंतराल आया है। इसके बाद सिर्फ मतगणना का ही काम बचता है। इस मामले में सबसे कम अंतराल 2012 में 37 दिन का था जबकि सबसे बड़ा अंतराल 2007 में 55 दिन का आया था। 

पिछले चुनावों से तुलना
साल     घोषणा    मतदान    गणना    

2017    04जनवरी    15 फरवरी    11 मार्च
2012    24 दिसंबर    30 जनवरी    06 मार्च
2007    29 दिसंबर    21 फरवरी    27 फरवरी
2002    26 दिसंबर    14 फरवरी    24 फरवरी

वोटरों के बारे में
जिला            मतदाता     सर्विस वोटर   

उत्तरकाशी     235427    3388           
चमोली          298715    10396
रुद्रप्रयाग      192724    5388
टिहरी          529865    5783
देहरादून       1481874    9805
हरिद्वार        1417026    2179
पौड़ी           577117    16170
पिथौरागढ़    381581    14591
बागेश्वर       216765    4607
अल्मोड़ा     538826    7228
चम्पावत    203151    3028
नैनीताल    712912    5423
यूएसनगर    1299939    5494
कुल           8143922    93964     (अन्य वोटर 300)