हाथ में इस जगह क्रॉस का निशान बनाता है भाग्यवान


हम सभी के हाथ में कई तरह के निशान होते हैं जो हमे भविष्य के बारे में बताते हैं। इन सभी निशानों में एक निशान होता है क्रॉस का। जी हाँ, हालाँकि यह शुभ फल कम और अशुभ फल ज्यादा देता है। कहा जाता है अगर व्यक्ति के हाथ में गुरु पर्वत (Guru Parvat) पर क्रॉस का निशान हो तो यह बहुत शुभ होता है। जी दरअसल हाथ की पहली उंगली या तर्जनी उंगली के नीचे के उभार को गुरु पर्वत कहते हैं। इस जगह पर क्रॉस का होना व्‍यक्ति को हर तरह के सुख दिलाता है। केवल यही नहीं बल्कि ऐसे जातक को जीवनसाथी भी बहुत अच्‍छा मिलता है। इनका जीवनसाथी (Life Partner) न केवल उच्‍च शिक्षित होता है, बल्कि उसका संबंध अमीर घराने से भी होता है। इसी के साथ ही इन लोगों की मैरिड लाइफ भी खुशहाल रहती है। आपको बता दें कि कुल मिलाकर ऐसे जातक हर मामले में और विशेषतौर पर शादी (Marriage) के मामले में बहुत लकी (Lucky) होते हैं। वहीं हथेली में अन्‍य जगहों पर क्रॉस का निशान होना अच्‍छा संकेत नहीं है। 

– कहा जाता है केतु पर्वत पर क्रॉस का निशान होना जातक की पढ़ाई बीच में ही छुड़वा देता है। 
–  वहीं जिन लोगों के हाथ में बुध पर्वत पर क्रॉस का निशान हो, वे लोग भरोसे के लायक नहीं होते हैं। जी दरअसल ऐसे लोग धोखेबाज और झूठ बोलने में माहिर होते हैं।
– कहा जाता है शनि पर्वत पर क्रॉस का निशान बड़े झगड़े-विवाद में फंसने या बड़े हादसे का शिकार होने का संकेत है। ऐसे लोग असमय मौत को गले लगा लेते हैं।
– सूर्य पर्वत पर क्रॉस का निशान होना मानहानि का कारण होता है और यह निशान कारोबारियों को बार-बार नुकसान कराता है। 
– अगर हृदय रेखा पर क्रॉस का निशान हो तो जातक को दिल की बीमारियां हो सकती हैं। 
– जीवन रेखा पर स्थित क्रॉस का निशान होना व्यक्ति को मौत जैसा कष्ट मिलता है।

,