शिवसेना का बड़ा बयान, कहा- नहीं करेंगे गठबंधन, सपा से हैं वैचारिक मतभेद


मुंबई, विधानसभा चुनाव को देखते हुए शिवसेना (Shiv sena) भी सक्रिय हो गई है। शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay raut) ने गुरुवार को कहा है कि शिवसेना उत्‍तर प्रदेश में किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन का हिस्सा नहीं होगी। समाजवादी पार्टी (SP) के साथ हमारे वैचारिक मतभेद हैं। लेकिन हम चाहते हैं कि राज्य में बदलाव हो। हम लंबे समय से यूपी में काम कर रहे हैं। लेकिन चुनाव नहीं लड़ा क्योंकि भाजपा को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहते थे। गौरतलब है कि इससे पहले बुधवार को राउत ने कहा था कि शिवसेना यूपी में 50-100 सीटों पर विधानसभा चुनाव लड़ेगी। शिवसेना नेता संजय राउत आज पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के दौरे पर जाएंगे।

इससे पूर्व बुधवार को शिवसेना सांसद संजय राउत ने उत्‍तर प्रदेश सरकार में पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और बीजेपी के कुछ और विधायकों के इस्तीफे को लेकर बयान देते हुए दावा किया था कि “यह तो बस शुरुआत है और उत्तर प्रदेश की राजनीति में बदलाव होने वाला है। यह राज्य के एक मंत्री और कुछ अन्य भाजपा विधायकों के हाल ही में पार्टी छोड़ने के बाद शुरू हुआ है।’ हमारी लड़ाई बीजेपी के नोट से है, शिवसेना आम जन की पार्टी है और हम लोगों से कहना चाहते हैं कि पैसे के लालच में न आएं।

गौरतलब है कि बुधवार को मीडिया से बात करते हुए संजय राउत ने कहा था कि भाजपा को सावधान रहने की आवश्‍कता है। अभी लहरों की चाल धीमी है लेकिन तेज लहरों से भाजपा का जहाज डगमगा सकता है। संजय राउत ने ये भी कहा था कि भाजपा ओपिनियन पोल की अफवाह भी फैला रही है, उस पर भरोसा करना सही नहीं है। गोवा और उत्‍तर प्रदेश में निश्‍चित ही बदलाव नजर आएगा।