केरल में बढ़ा कोरोना का कहर , 21 जनवरी तक बंद हुए 9वीं क्‍लास तक के स्‍कूल


केरल में लगातार कोविड-19 के मामले बढ़ रहे हैं। राज्य में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा। वहीं कोरोना का नया वैरिएंट ओमीक्रोन तेजी से फैल रहा है। कोविड ​​​​-19 के नए मामलों में वृद्धि के बीच, राज्य सरकार ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लिया, जिसमें कक्षा 9 तक के स्कूली छात्रों की शारीरिक कक्षाओं को 21 जनवरी तक स्थगित कर दिया गया है।

आपको बता दें यह बड़ा फैसला मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन की एक उच्च स्तरीय बैठक में किया गया, जिसमें कहा गया कि कोविड 19 प्रतिबंधों को जारी रखने के बारे में निर्णय लेने के लिए 2 फरवरी को एक समीक्षा बैठक होगी। फिलहाल राज्य में 15 से 18 वर्ष के युवाओं के चल रहे टीकाकरण अभियान के चलते कक्षा 10, 11 व 12 की शारीरिक कक्षाएं पहले की तरह जारी रहेंगी।

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने दिया निर्देश

देशभर में बच्चों का टीकाकरण अभियान तेजी से चलाया जा रहा है। सभी राज्य सरकारों की प्राथमिकता है कि स्कूल जा रहे सभी छात्रों को जल्द से जल्द टीका लगाया जाए। केरल मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभागों को निर्देश दिया है कि स्कूलों में 10,11 और 12वीं कक्षा में विद्यार्थियों के टीकाकरण के लिए कोआर्डिनेट कर जल्द से जल्द व्यवस्था करें । साथ ही मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को 16 जनवरी से दर्शन के लिए बुकिंग कराने वाले श्रद्धालुओं को सबरीमाला तीर्थ यात्रा स्थगित करने का संदेश देने का भी निर्देश दिया है।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा

शुक्रवार को राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि केरल ने पिछले 24 घंटों के दौरान 16,338 नए कोविड ​​​​-19 मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि तिरुवनंतपुरम और एर्नाकुलम जिलों में कोविड का प्रसार सबसे अधिक है।

इस बीच, पिछले 24 घंटों के दौरान 3,848 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। वहीं बीते 24 घंटों के दौरान घातक कोरोना वायरस से 20 लोगों की जान चली गई है। राज्य में वर्तमान में कोविड-19 के सक्रिय मामले 76,819 हैं।