टीम इंडिया के इन प्लेयर्स पर जमकर भड़के सुनील गावस्कर ,कहा- ये तो हारने ही आए थे


भारत को साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से हार का सामना करना पड़ा. इसी के साथ साउथ अफ्रीका में भारतीय टीम का सीरीज जीतने का सपना एक बार फिर से टूट गया. तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी में टीम इंडिया के गेंदबाज और बल्लेबाज पूरी तरह फ्लॉप रहे. टीम इंडिया की हार के बाद पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर विराट सेना पर जमकर बरसे हैं और उन्होंने कुछ खिलाड़ियों को खूब खरी खोटी सुनाई है. 

इन खिलाड़ियों पर बरसे सुनील गावस्कर  

तीसरे टेस्ट में विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया को 7 विकेट से हरा दिया. खासकर विराट कोहली के कुछ फैसलों पर गावस्कर ने सवाल खड़ा किया है. गावस्कर ने मैच के बाद स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘यह मेरे लिए हैरानी की बात थी कि शार्दुल ठाकुर और जसप्रीत बुमराह ने लंच के बाद गेंदबाजी क्यों नहीं की. यह लगभग ऐसा था जैसे भारत ने तय कर हो कि वो मैच को जीतने ही नहीं जा रहे हैं.’

इसके अलावा गावस्कर ने इस बात पर भी सवाल उठाए कि रविचंद्रन अश्विन की गेंदबाजी के वक्त भारत की फील्डिंग ठीक नहीं थी. गावस्कर ने कहा, ‘अश्विन की गेंदबाजी के वक्त फील्ड प्लेसमेंट सही नहीं था. सिंगल्स आसानी से दूसरी टीम को मिल जा रहे थे. पांच फील्डर डीप में थे. ऐसी स्थिति में बल्लेबाज अगर खतरा मोल लेता तो ही आप उसे आउट कर पाते.’ इसके अलावा गावस्कर ने ये भी कहा कि बल्लेबाजी के लिए मुश्किल पिच पर भी साउथ अफ्रीका ने कमाल का प्रदर्शन किया. 

टूटा विराट कोहली का सपना

टीम इंडिया ने सेंचुरियन में पहला टेस्ट मैच 113 रन से जीतकर कमाल कर दिया था, लेकिन जोहानिसबर्ग और केपटाउन में दोनों टेस्ट गंवाकर सीरीज में 1-2 से शिकस्त पाई. भारत आज तक इस सरजमीं पर एक भी टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाई है. इस हार के साथ ही विराट कोहली का साउथ अफ्रीका में सीरीज जीतने का सपना टूट गया. 29 साल के बाद विराट सेना एक बार फिर से टीम इंडिया को सीरीज जीतने के लिए लंबा इंतजार करना होगा. 

टेस्ट सीरीज में हारी टीम इंडिया

दक्षिण अफ्रीका ने भारत के खिलाफ 212 रन का पीछा करते हुएअपनी दूसरी पारी में 3 विकेट खोकर टारगेट को हासिल कर लिया. कीगन पीटरसन (Keegan Petersen) ने शानदार 81 रन की पारी खेली, वहीं रासी वान डार डुसेन ने 41 और टेम्बा बवूमा ने 32 रन का योगदान देकर अपनी टीम को 7 विकेट से यादगार जीत दिला दी. टीम इंडिया ने सेंचुरियन में पहला टेस्ट मैच 113 रन से जीतकर कमाल कर दिया था, लेकिन जोहानिसबर्ग और केपटाउन में दोनों टेस्ट गंवाकर सीरीज में 1-2 से शिकस्त पाई. भारत आज तक इस सरजमीं पर एक भी टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाई है.