पाकिस्तान और कनाडा में रह रहे खालिस्तानियों के संपर्क में था पठानकोट ब्लास्ट का आतंकी सुखप्रीत

बाजपुर और केलाखेड़ा में शरण लेने वाला आतंकी सुखप्रीत उर्फ सुख पाकिस्तान स्थित इंटरनेशनल सिख यूथ वफेडरेशन के प्रमुख लखवीर सिंह रोडे और भगोड़े गैंगस्टर और खालिस्तान टाइगर फोर्स से जुड़े अर्शदीप सिंह के संपर्क में था। यही नहीं आतंकी को शरण देने वाले पकड़े गए चारों युवक भी गैंगस्टर से इंटरनेट/वाट्सएप कालिंग के माध्यम से जुड़े थे और उसके द्वारा ही चारों को समय-समय पर आदेश देकर संचालित किए जाने की पुष्टि हुई है। पुलिस और एसटीएफ के अलावा खुफिया एजेंसियां इनके संपर्क में रहने वाले और लोगों की जांच में भी जुट गई हैं।

शुक्रवार की रात एसटीएफ ने शमशेर सिंह उर्फ शेरा, हरप्रीत सिंह, गुरपाल सिंह, अजमेर सिंह मंड को आतंकी सुखप्रीत उर्फ सुख को शरण देने के मामले में गिरफ्तार किया। इस दौरान पुलिस और एसटीएफ के साथ ही खुफिया एजेंसियों ने चारों से पूछताछ की। पूछताछ में चारों ने बताया कि आतंकी को शरण देने वाला मुख्य मास्टर माइंड शमशेर सिंह उर्फ शेरा है। बताया कि आतंकी सुखप्रीत उर्फ सुख इस दौरान कई इंटरनेशनल काल्स के संपर्क में था। यही नहीं आतंकी सुखप्रीत के साथ ही वह भी कनाडा निवासी अर्शदीप के इंटरनेट, वाट्सएप कािलिंग के माध्यम से जुड़े हुए थे। एसएसपी बरिंदरजीत सिंह ने बताया कि अर्शदीप खालिस्तान टाइगर फोर्स (केटीएफ) से जुड़ा है। आतंकी सुखप्रीत उर्फ सुख पाकिस्तान स्थित इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन के प्रमुख लखवीर सिंह रोडे के भी संपर्क में होने की पुष्टि हुई है। जिसके बाद आरोपितों से प्राप्त जानकारी राष्ट्र हित में विभिन्न राष्ट्रीय एजेंसियों और राज्य पुलिस से सांझा किया जा रहा है।

कौन है इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन के प्रमुख लखवीर सिंह रोडे

लखवीर सिंह रोडे इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन का प्रमुख है। यह बैन आर्गेनाइजेशन है और वर्ष, 1984 में इग्लैंड में इस पर प्रतिबंध लगाया गया था। तब से यह संगठन पाकिस्तान में सक्रिय है। 11 नवंबर, 2021 में पठानकोट में हुए ग्रेनेड हमले में भी सिख यूथ फेडरेशन का हाथ था। इसमें छह आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया था। इस दौरान हुई पूछताछ में पता चला कि हमले में रोडे का हाथ था और वे लोग रोडे और उसके करीबी सुखप्रीत सिंह के संपर्क में थे। सुखप्रीत सिंह उर्फ सुख घुम्मन वही है जिसने यूए (पी) एक्ट के तहत एक आइएसवाइएफ प्रमुख आतंकी लखवीर रोडे और भगोड़े गैंगस्टर अर्शदीप डल्ला के साथ साजिश रची थी

एसटीएफ और पुलिस टीम को इनामों की बौछार

आतंकी को शरण देने वाले चार लोगों की गिरफ्तारी करने वाली पुलिस और एसटीएफ को डीआइजी कुमाऊं नीलेश आनंद भरणे, एसएसपी ऊधम सिंह नगर बरिंदरजीत सिंह के साथ ही एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है। टीम में सीओ एसटीएफ डा.पूर्णिमा गर्ग, निरीक्षक एमपी सिंह, निरीक्षक ललित मोहन जोशी, उपनिरीक्षक दिनेश पन्त, उपनिरीक्षक विनोद चंद्र जोशी, उपनिरीक्षक केजी मठपाल, उपनिरीक्षक बृजभूषण गुरुरानी, हेड कांस्टेबल प्रकाश भगत, सत्येन्द्र गंगोला, कांस्टेबल गुरवंत सिंह, किशोर कुमार, महेन्द्र गिरी, रियाज अख्तर, संजय कुमार, गोविंद सिंह बिष्ट, प्रमोद सिंह रौतेला, मनमोहन सिंह, सुरेंद्र कनवाल, नवीन कुमार, दुर्गा सिंह पापड़ा, राजेन्द्र सिंह महरा, मुहम्मद उस्मान शामिल हैं।