जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर पर लग सकता है बैन, जानिए वजह….

लंदन: हेल्थकेयर कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर पर यूनाइटेड किंगडम समेत पूरी दुनिया में बैन लग सकता है. कंपनी के एक शेयरहोल्डर ने जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी के बेबी पाउडर पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रस्ताव पेश किया है.

इन देशों में जॉनसन के बेबी पाउडर की बिक्री बंद

द गार्डियन में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, जॉनसन एंड जॉनसन ने अपने बेबी पाउडर प्रोडक्ट को साल 2020 में ही अमेरिका और कनाडा में बेचना बंद कर दिया था. दरअसल अमेरिकी रेगुलेटर की तरफ से की गई जांच में जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर के एक सैंपल में Carcinogenic Chrysotile Fibres पाया गया, जिसके बाद उसके बेबी पाउडर की बिक्री में भारी गिरावट आ गई थी.

जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ दायर हो चुके हैं इतने केस

बता दें कि जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी इस वक्त 34 हजार से ज्यादा मुकदमों का सामना कर रही है. इसमें से कई केस महिलाओं ने किए हैं, जिन्होंने दावा किया है कि बेबी पाउडर का इस्तेमाल करने के बाद उनको Ovarian कैंसर हो गया.

Talc है दुनिया का सबसे सॉफ्ट मिनरल

जान लें कि Talc दुनिया का सबसे सॉफ्ट मिनरल माना जाता है. इसकी माइनिंग कई देशों में की जाती है. Talc का इस्तेमाल पेपर, प्लास्टिक और फार्मास्युटिकल के कारोबार में किया जाता है. इसका इस्तेमाल रैश के इलाज के लिए और अन्य पर्सनल हाइजीन के लिए भी होता है.

गौरतलब है कि Talc का भंडार कभी-कभी Asbestos के कारण दूषित हो जाता है. अगर इसके फाइबर शरीर में प्रवेश कर जाते हैं तो ये खनिज कैंसर का कारण बनता है.

हालांकि जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी ने इस बात से इनकार किया है कि उसका बेबी पाउडर हानिकारक है. जॉनसन एंड जॉनसन का कहना है कि उसके बेबी पाउडर के बारे में अफवाह फैलने के बाद बिक्री में गिरावट आई थी, जिसके बाद उत्तरी अमेरिका में प्रोडक्ट बेचना बंद कर दिया था.