यदि महिलाओं की फड़कती है बांई आंख तो होती है ये चीजें

आज के समय में शुभ-अशुभ को पता करने के कई तरीके हैं जो शास्त्रों में लिखे हुए हैं। इन्ही में शामिल है आँख का फड़कना। जी दरअसल ज्योतिष शास्त्र के अनुसार माना जाता है कि शरीर के सभी अंग किसी ना किसी स्थिति में फड़कते हैं। इसी के साथ ही ऐसा माना जाता है कि हर अंग के फड़कने का अलग-अलग अर्थ होता है। आप सभी ने कई बार अपनी आंखों को फड़कता हुआ पाया है हालाँकि आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आँख फड़कने से क्या संकेत मिलते हैं। शास्त्रों के अनुसार पुरुषों की दाई आंख का फड़कना पुरुषों के लिए शुभ माना जाता है और स्त्रियों की बांयी आंख फड़कना शुभ संकेत देती है। शास्त्रों के अनुसार किसी व्यक्ति की दाईं आंख फड़कती है तो उसे शुभ माना जाता है।

वहीं ज्योतिष शास्त्र के अनुसार माना जाता है कि किसी व्यक्ति की दाईं आंख की ऊपरी पलक और भौवें दोनो फड़कती हैं तो ये मन की सभी इच्छाएं पूरी करता है। इसके अलावा करियर में तरक्की मिल सकती है और धन लाभ होने के संभावनाएं भी मानी जाती हैं। इसी के साथ ये भी माना जाता है कि व्यक्ति की दाईं आंख के नीचे का हिस्सा फड़कता है तो इसे अशुभ माना जाता है। ये किसी अशुभ घटना के होने से पहले का संकेत माना जाता है। ज्योतिष के मुअतबिक बांई आंख का फड़कना अशुभ होता है।

जी दरअसल बांई आंख की पलक और भौंवे फड़कने का अर्थ होता है कि व्यक्ति की किसी दुश्मन के साथ लड़ाई हो सकती है और इसके कारण दुश्मनी बढ़ सकती है और व्यक्ति के रिश्ते भी खराब होने की संभावनाएं होती हैं। इसके अलावा ऐसा भी माना जाता है कि बांई आंख के नीचे के हिस्से के फड़कने से किसी से बहसबाजी हो सकती है। जिसके कारण लज्जित होना पड़ सकता है। लेकिन यहां ये मान्यता है कि महिलाओं की बांई आंख फड़कना एक शुभ संकेत होता है।