महाशिवरात्रि: धतूरा चढ़ाने से संकट का होता हैं समाधान, जानिए….

1 मार्च 2022 मंगलवार के दिन महाशिवरात्रि मनाई जाएगी। आप सभी को बता दें कि इस दिन धनिष्ठा नक्षत्र में परिघ योग रहेगा। ऐसे में धनिष्ठा के बाद शतभिषा नक्षत्र रहेगा। वहीं परिघ के बाद शिवयोग रहेगा। कहा जा रहा है बारहवें भाव में मकर राशि में पंचग्रही योग भी बन रहा है। इसके चलते शिवजी को प्रसन्न करने के लिए जल अर्पित करने के साथ ही कुछ चीजें उन्हें अर्पित करें और उनसे मनचाहा वरदान पाएं। आइए जानते हैं उन चीजों के बारे में।

धतूरा : धतूरा अर्पित करने से सभी तरह के संकटों का समाधान हो जाता है।

आंकड़ा : एक आंकड़े का फूल चढ़ाना सोने के दान के बराबर फल देता है।

बिल्वपत्र : बिल्वपत्र को अर्पित करने से 1 करोड़ कन्याओं के कन्यादान का फल मिलता है।

देसी घी : शिवलिंग पर घी अर्पित करने से व्यक्ति में शक्ति का संचार होता है।

भांग : भांग अर्पित करने से शिवजी अपने भक्तों की हर तरह से रक्षा करते हैं।

चीनी : चीनी अर्पित करने से जीवन में कभी भी यश, वैभव और कीर्ति की कमी नहीं होती है।

दूध : किसी भी प्रकार के रोग से मुक्त होने के लिए दूध अर्पित करें।

दही : जीवन में परिपक्वता और स्थिरता पाने के लिए दही अर्पित करते हैं।

इत्र : इत्र चढ़ाने से तन और मन की शुद्धि होती है।

केसर : लाल केसर से शिवजी को तिलक करने से सोम्यता प्राप्त होती है और मांगलिक दोष भी दूर होता है।