यूपी: शाहजहांपुर में नमकीन कारोबारी सपा नेता की फैक्ट्री और घर पर IT ने मारा छापा

शाहजहांपुर, उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव में अंतिम चरण के मतदान के बाद आयकर विभाग की टीम एक बार फिर सर्वे में जुट गई है। आयकर विभाग की टीम ने मंगलवार को शाहजहांपुर में समाजवादी पार्टी के नेता और नमकीन कारोबारी विनय अग्रवाल के घर तथा फैक्ट्री पर छापा मारा। यहां पर इनकम टैक्स की कई टीमें दस्तावेज खंगालने में जुटी हैं।

शाहजहांपुर में मंगलवार सुबह से इनकम टैक्स की कई टीमें रोजा क्षेत्र के अटसलिया में विनय अग्रवाल की नमकीन फैक्ट्री पर पहुंचीं। इसके साथ ही उनके घर प्रताप एनक्लेव पर भी छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान किसी को भी फैक्ट्री या घर के अंदर आने-जाने की इजाजत नहीं दी गई। नकम टैक्स की कई टीमें लगातार दस्तावेजों की छानबीन कर रही है। समाजवादी पार्टी के नेता और शहर के उद्योगपति विनय अग्रवाल इस बार विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लडऩे की दावेदारी कर रहे थे। टिकट ना मिलने की वजह से वह चुनाव नहीं लड़ सके। सपा के प्रमुख अखिलेश यादव से उनके करीबी संबंध हैं।

शाहजहांपुर में मंगलवार को बरेली और लखनऊ की आयकर की टीमों ने संयुक्त रूप से नमकीन कारोबारी की फैक्ट्री और घर पर छापा मारा। पनीर व नमकीन कारोबारी विनय अग्रवाल के घर कई टीम साथ पहुंचीं, जिससे उन्हें संभलने का मौका नहीं दिया। अपर आयकर आयुक्त सौरभ दुबे के नेतृत्व में छापेमारी कर रही बरेली और लखनऊ की टीमों ने घर व प्रतिष्ठान में घुसते ही सबसे पहले विनय अग्रवाल के साथ अन्य के मोबाइल और लैपटॉप अपने कब्जे में ले लिए। प्रतिष्ठान और घर पर छापेमारी करने वाली दोनों टीमों में 25-25 कर्मचारी शामिल है। परी नमकीन फैक्ट्री व शहर के प्रताप एन्क्लेव स्थित आवास का गेट बंद करके छापेमारी कर रही है। अब यह कार्रवाई लंबे समय चलने की संभावना है।

परी नमकीन निर्माता विनय अग्रवाल इससे पहले पान मसाला का उत्पादन करते थे। फैक्ट्री बंद करने के बाद उन्होंने नमकीन की फैक्ट्री लगाई। समाजवादी पार्टी से शहर विधानसभा चुनाव के लिए टिकट मांगा था। अब वह नगर निगम मेयर की तैयारी कर रहे हैं। दस रुपये में भरपेट भोजन के अभियान से उनकी समाजसेवी के रूप में भी पहचान है।