मौसम विभाग ने चार अप्रैल तक भीषण हीटवेव की दी चेतावनी, पढ़े पूरी खबर

 गुरुवार को प्रदेश भर में भीषण हीटवेव की स्थिति बनी रही। मौसम शुष्क रहा, चिलचिलाती धूप और गर्म हवाओं ने शहरवासियों को खासा परेशान किया। मौसम विभाग के अनुसार, ओड़िशा से तेलंगाना की ओर चलने वाली टर्फ (समुद्री हवा) बंद होकर उत्तर प्रदेश के दक्षिण पूर्वी हिस्से से बिहार और छत्तीसगढ़ तक परिसंचरित हो रही है।

इसकी वजह से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चार अप्रैल तक भीषण हीटवेव की चेतावनी जारी की गई है। लू और धूल भरी गर्म हवाओं के बीच राजधानी का एक्यूआइ स्तर चिंताजनक होता जा रहा है। गुरुवार को शहर का एक्यूआइ स्तर 234 पर दर्ज किया गया। जबकि तालकटोरा में एक्यूआइ स्तर सबसे खराब 333 पर दर्ज किया गया। गुरुवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 39.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 23.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

प्रदेश में सबसे अधिक तापमान झांसी में 42.5 डिग्री सेल्सियस, आगरा में 42.5 डिग्री सेल्सियस और कानपुर में 42.1 डिग्री सेल्सियस रहा। प्रदेश के कुछ स्थानों पर न्यूनतम तापमान में सामान्य से 5.0 डिग्री सेल्सियस से भी ज्यादा की बढ़त दर्ज की गई। नजीराबाद में 16.0 डिग्री सेल्सियस और फैजाबाद में न्यूनतम तापमान 16.0 डिग्री सेल्सियस पर दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, अगले दो दिनों तक शहर का अधिकतम तापमान 40.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 22.0 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है। प्रदेश भर में दिन के समय शुष्कता और तेज हवाओं का असर बना रहेगा। अगले पांच दिनों तक अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के आस पास बना रहेगा।