असेंबली में देरी से पहुंचने पर गुस्साए प्रधानाचार्य ने खोये अपने होश ,पिटाई से फटा छात्र के कान का पर्दा

थाना क्षेत्र के बडौली गांव स्थित एक पब्लिक स्कूल में सुबह असेंबली के दौरान छात्र का देरी से पहुंचना प्रधानाचार्य को इतना नागवार गुजरा कि उन्होंने आव देखा न ताव और छात्र पर डंडे लेकर पिल पड़े। प्रधानाचार्य की निर्मम पिटाई से छात्र के कान का पर्दा फट गया, जिसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया। गुरुवार को पीड़ित छात्र व उसके स्वजन कोतवाली पहुंचे और प्रधानाचार्य खिलाफ तहरीर दी। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

यह है मामला

बड़ौली गांव निवासी पीड़ित छात्र मोहित पुत्र देवेंद्र तोमर गांव में ही संचालित एक पब्लिक स्कूल में कक्षा 12 कॉमर्स स्ट्रीम का छात्र है। छात्र ने बताया कि बुधवार को वह विद्यालय में कुछ समय देरी से पहुंचा था। उस समय विद्यालय में असेम्बली चल रही थी। प्रधानाचार्य ने उसे अपने पास बुलाया और उस पर दनादन थप्पड़ बरसाने शुरू कर दिए। आरोप है कि प्रधानाचार्य इतने पर ही नहीं रुके, उसके बाद उन्होंने डंडा उठा लिया और उस पर डंडे की बरसात कर दी । एक डंडा उसके कान पर भी लगा, जिसके बाद तुरंत उसके कान से खून बहना शुरू हो गया। इसके बाद उसे स्कूल से भगा दिया गया। वह रोते बिलखते घर पहुंचा और स्वजन को घटना की जानकारी दी।

हालत बिगड़ने पर स्वजन उसे लेकर निजी अस्पताल में पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने बताया कि उसके कान का पर्दा फट चुका है और कान में काफी चोट आई है। मरहम पट्टी के बाद जब स्वजन इस संबंध में शिकायत करने स्कूल पहुंचे तो आरोप है कि उनके साथ भी स्कूल में अभद्रता की गई। इसके बाद गुरुवार को पीड़ित छात्र व स्वजन कोतवाली पहुंचे और घटना की तहरीर दी। कोतवाल एमएस गिल ने उन्हें कार्रवाई का आश्वासन दिया।