केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री पशुपति कुमार पारस ने अपने भतीजे चिराग पासवान पर लगाए ये गंभीर आरोप….

राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष व केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री पशुपति कुमार पारस ने सोमवार को अपने भतीजे व लोजपा रामविलास के अध्यक्ष चिराग पासवान पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जमुई सांसद चिराग पासवान मेरी हत्या की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि चिराग ने पहले हाजीपुर में मेरे ऊपर जानलेवा हमला करवाया। जब वहां असफल हुए तो शनिवार को पटना के मोकामा में आयोजित चौहरमल मेले में मेरी हत्या कराने की नीयत से हमला करवाया, लेकिन मैं बाल-बाल बच गया। पारस ने कहा कि मोकामा में हमले के कई सुबूत मिले हैं। इसके आधार पर हमने चिराग पासवान के खासम खास अमर आजाद और संजय रविदास के खिलाफ नामजद एफआइआर दर्ज कराई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर अपने ऊपर हुए हमले और इसकी साजिश रचने वाले के विरुद्ध उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है।

केंद्रीय मंत्री रहे रामविलास पासवान के छोटे भाई पशुपति कुमार पारस ने कहा कि चिराग पासवान मेरी हत्या करवाने की साजिश काफी दिनों से रच रहे हैं, इसकी मुझे पहले से आशंका भी थी। इस आलोक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार सरकार के सीआइडी डिपार्टमेंट से रिपोर्ट मांगी है, ताकि आगे की जांच प्रक्रिया पूरी हो सके। पारस ने कहा कि मुख्यमंत्री से मुलाकात करके अपने ऊपर हो रहे जानलेवा हमले और इसमें शामिल लोगों के विरुद्ध उच्च स्तरीय जांच कराने और दोषियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। 

पटना में मंत्री के काफिले पर हुआ था हमला

बता दें कि बीते शनिवार को केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस की गाड़ी पर पटना जिले के घोसवरी प्रखंड अंतर्गत टाल क्षेत्र के चाराडीह गांव में कुछ लोगों ने हमला किया था। गाड़ी पर पत्थर, पानी व कोल्ड ड्रिंक्स की बोतलें फेंकी गई थीं। इस दौरान पारस के समर्थकों और हमलावरों के बीच लाठी-डंडे चले थे। मौके पर मौजूद पुलिस ने मामला शांत कराया और केंद्रीय मंत्री को सुरक्षित वहां से निकाला। इस दौरान पुलिस को भीड़ पर हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा था।