मुख्यमंत्री योगी ने जनपद वाराणसी में आर0एस0 वर्ल्ड विद्यालय का किया उद्घाटन

  • मुख्यमंत्री ने विश्वास व्यक्त किया कि विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता बनाए रखते हुए भारतीय मूल्यों व आदर्शों के दृष्टिगत राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप पठन-पाठन का कार्य संपन्न होगा
  • भारतीय शिक्षा पद्धति देश और दुनिया को एक नई दिशा देगी
  • प्रधानमंत्री जी की प्रेरणा से कोरोना काल में बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की गयी
  • छात्र-छात्राओं को तकनीकी रूप से सशक्त बनाने के लिए स्नातक तथा परास्नातक स्तर के विद्यार्थियों को स्मार्टफोन और टैबलेट वितरित किए जा रहे
  • मुख्यमंत्री ने लोगों से कोविड संक्रमण से बचाव के लिये सतर्क एवं सजग रहने का आह्वान किया
  • मुख्यमंत्री ने निर्माणाधीन रिंग रोड फेज-2 का स्थलीय निरीक्षण किया, निर्माण कार्य को मार्च, 2023 तक पूर्ण करने के निर्देश दिए

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज राजातालाब, जनपद वाराणसी में खजूरी स्थित आर0एस0 वर्ल्ड विद्यालय का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में उन्होंने विश्वास जताया कि इस विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता बनाए रखते हुए भारतीय मूल्यों व आदर्शों के दृष्टिगत राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप पठन-पाठन का कार्य संपन्न होगा। यह विद्यालय उत्तर प्रदेश विशेष रूप से पूर्वांचल क्षेत्र में एक मॉडल स्कूल के रूप में अतिशीघ्र अपनी पहचान बनाने में सफल होगा। अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त इस विद्यालय में बारहवीं तक की कक्षाएं संचालित होंगी।


मुख्यमंत्री जी ने कहा कि भारतीय शिक्षा पद्धति देश और दुनिया को एक नई दिशा देगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति विद्यालयों में लागू करायी जा रही है। विगत 02 वर्षों के दौरान कोरोना काल में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की प्रेरणा से बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की गयी। शिक्षण कार्य में तकनीक का व्यापक इस्तेमाल किया गया। इसी क्रम में छात्र-छात्राओं को तकनीकी रूप से सशक्त बनाने के लिए स्नातक तथा परास्नातक स्तर के विद्यार्थियों को स्मार्टफोन और टैबलेट वितरित किए जा रहे हैं। छात्र-छात्राएं अपने अध्ययन में इसका उपयोग करके न सिर्फ लाभान्वित होंगे, बल्कि शिक्षा के क्षेत्र का व्यापक विकास होगा और नई प्रतिभाएं सामने आएंगी। इससे देश मजबूत बनेगा।


मुख्यमंत्री जी ने लोगों से कोविड संक्रमण से बचाव के लिये सतर्क एवं सजग रहने का आह्वान करते हुए कहा कि कोरोना टीकाकरण के पहले चरण में सीनियर सिटिजन, हेल्थ वर्कर सहित सभी कोरोना वॉरियर्स, दूसरे चरण में 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों, तत्पश्चात 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों, 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों तथा 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों के निःशुल्क वैक्सीनेशन की व्यवस्था की गयी।


इस अवसर पर प्रदेश के स्टाम्प तथा न्यायालय शुल्क एवं पंजीयन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री रवीन्द्र जायसवाल ने मुख्यमंत्री जी का स्वागत करते हुए कहा कि पूर्वांचल के बच्चों को आधुनिक संसाधनों के साथ अच्छी शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए यह विद्यालय स्थापित किया गया है। उच्च और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को ध्यान में रखकर धीरेन्द्र महिला पी0जी0 कॉलेज, आर0एस0 बनारस लॉ कॉलेज, विन्ध्य गुरुकुल कॉलेज तथा विन्ध्य गुरुकुल कॉलेज ऑफ फार्मेसी का भी संचालन किया जा रहा है।
विद्यालय के वाइस चेयरमैन और स्कूल के प्रबंधक श्री आयुष जायसवाल ने मुख्यमंत्री जी को अंगवस्त्र और स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। अंत में आगन्तुकों के प्रति आभार और धन्यवाद ज्ञापन डॉ0 वीरेंद्र जायसवाल ने किया। स्कूल की प्रिंसिपल डॉ0 आशा तिवारी ने स्कूल के संबंध में जानकारी दी।


इस अवसर पर श्रम एवं सेवायोजन मंत्री श्री अनिल राजभर, आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री दयाशंकर मिश्र ‘दयालु’ सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण व शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
इससे पूर्व, मुख्यमंत्री जी ने सर्किट हाउस में जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों के साथ बैठक कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री जी गुरुवार को देर रात जनपद वाराणसी आने के बाद चिरईगांव विकास खंड के सन्धहा पहुंचे। उन्होंने वहाँ पर निर्माणाधीन रिंग रोड फेज-2 के निर्माण कार्य का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री जी ने निर्माण कार्य को मार्च, 2023 तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। कार्यदायी संस्था के अभियंताओं ने प्रस्तुतिकरण के माध्यम से परियोजना की प्रगति के संबंध में मुख्यमंत्री जी को विस्तार से अवगत कराया।
———–