कैंट के कोयला घाट पर गंगा नहा रहे दो मौसेरे भाई की डूबने से हुई मौत

कैंट के कोयला घाट पर गंगा नहा रहे दो मौसेरे भाई की डूबने से मौत हो गई। दोनों सुबह टहलने की बात कहकर घर से निकले थे और गर्मी में गंगा नहाने कैंट के कोयला घाट पर पहुंच गए थे। हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय गोताखोरों की मदद से दोनों के शवों को बाहर निकाला। वहीं हादसे की जानकारी के बाद दोनों परिवार में कोहराम मच गया।

चकेरी के छबीले पुरवा निवासी नीरज पाल का 17 वर्षीय बेटा सुशांत है। बीते कुछ दिनों से सुशांत का मौसेरा भाई 21 वर्षीय पुलकित निवासी बर्रा अपनी मौसी के घर पर ही रह रहा था।रविवार सुबह दोनों भाई घर से टहलने की बात कहकर निकले थे। इस दौरान वह कोयला घाट नहाने पहुंच गए। जहां नहाते वक्त पैर फिसलने से दोनों गंगा में डूब गए। वही काफी समय होने के बाद भी दोनों के घर नहीं पहुंचने पर स्वजन उनकी तलाश करते हुए कोयला घाट पहुंचे।

जहां घाट पर उनके कपड़े और मोबाइल देख कर स्वजन को अनहोनी होने की आशंका हुई। जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय गोताखोरों की मदद से दोनों को बाहर निकाला। साथ ही उन्हें केपीएम अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। कैंट थाना प्रभारी अर्चना सिंह ने बताया कि गंगा में नहाते वक्त दो मौसेरे भाई की मौत हुई है।