गोरखपुर की आदित्या यादव ने ब्राजील में रचा इतिहास,मुख्यमंत्री योगी ने भारतीय टीम को दी शुभकामनाएं

गोरखपुर की बेटी आदित्या यादव ने ब्राजील में इतिहास रच दिया है। 12 साल की उम्र में  डेफ ओलंपिक खेल रही आदित्या ने टीम चैंपियनशिप में भारत को स्वर्ण पदक दिलाया। भारत ने पहली बार बैडमिंटन चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता है। ब्राजील डेफलिपिक्स 2021 की बैडमिंटन स्पर्धा में परचम लहराने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय टीम को हार्दिक बधाई और ढेरों शुभकामनाएं दी हैं।

गुरुवार को ट्वीट कर उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली खिलाड़ी आदित्या यादव की भी जमकर सराहना की। योगी ने ट्वीट में लिखा कि गोरखपुर की बेटी आदित्या यादव ने जो अद्वितीय प्रदर्शन किया है, वह असंख्य खिलाडिय़ों व बच्चों के लिए एक बेमिसाल प्रेरणा है। हमें आप पर गर्व है।

सेमीफाइनल में चीन व फाइनल में जापान को दी शिकस्तः गत 26 से 28 फरवरी तक नई दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित नेशनल सेलेक्शन ट्रायल में हुआ था। बैडमिंटन के ट्रायल में कुल 16 महिला खिलाड़ियों ने क्वालीफाई किया था। इनमें आदित्य समेत चार महिला खिलाड़ियों का चयन ब्राजील ओलंपिक के लिए हुआ था। आदित्या नवंंबर में आयोजित स्टेट चैंपियनशिप की विजेता रही हैं।

अपने पूल के सभी तीन मैच जीतेः आदित्या ने अपने पूल में तीन मैच खेले और तीनों जीतने में सफल रहीं। जिसके बाद उनका चयन ब्राजील ओलिंपिक के मूकबधिर वर्ग के लिए हो गया